Class 10th Hindi Vvi Objective Question 2022 | Lesssion 2 बिष के दांत subjective Quaction 2022

 

 

Bihar Board class 10th Hindi Objection 2022 Pdf -Bihar Board 10th Hindi Objection And Subjecive 2022 pdf

 

प्रश्न 1. बिष के दांत कहानी के रचयिता कौन है ?
(A)अमरकांत (B)विनोद कुमार सुक्ल
(C)नलिन बिलोचन शर्मा (D)यतीन्द्र मिश्रा

Answer c


प्रश्न 2. खोखा का दूसरा नाम क्या था ?
(A)मदन (B)गिरधर
(C)काशू (D)आलो

Answer C


प्रश्न 3. मदन किसका पुत्र था ?
(A)सेन साहब (B) गिरधर
(C) शोफर (D) सिंह साहब

Answer B


प्रश्न 4. विष के दाँत कैसी कहानी है ?
(A)सामाजिक (B)ऐतिहासिक
(C)धार्मिक (D)मनोबैज्ञानिक

Answer D


प्रश्न 5. विष के दाँत समाज के किस वर्ग का मानसिकता उजागर करती है ?
(A)उच्च वर्ग (B)निम्न वर्ग
(C)मध्य वर्ग (D)निम्न-मध्य वर्ग

Answer D


प्रश्न 6. नलिन जी का जन्म कब हुआ था ?
(A)18 फरवरी 1916 (B)18 मार्च 1916
(C)18 अप्रैल 1916 (D)18 मई 1916

Answer A

 


प्रश्न 7. नलिन जी की भाषा कैसी हैं ?
(A)गठीली (B)संकेतात्मक
(C)गठीली एवं संकेतात्मक (D)सभी गलत

Answer C


प्रश्न 8. नलिन विलोचन शर्मा क्या है ?
(A)आलोचक (B)कहानी कार
(C)भाषाविद (D)इनमें सभी उतर

Answer d


प्रश्न 9. नलिन विलोचन है ?
(A)नवीनता के आग्रही (B)प्रयोगवाद के अग्रदूत
(C)श्रेष्ठ आलोचक (D)इनमें से सभी

Answer a

Join teligram Group. Click here


10. पटना के बदरघाट प्र(भद्रघाट ) मुहले का सम्बंध निम्नलिखित में किसके जन्म स्थान से है ?

(A)दिनकर (B)नलिन जी
(C)प्रभाकर माचवे (D)प्रेमचन्द्र

Answer B


प्रश्न 11. किसके अनुसार सेनो ने सिध्दांतो को भी बदल दिया था ?
(A)बेटियों के अनुसार (B)खोखा के अनुसार
(C)मदन के अनुसार (D)गिरधर के अनुसार

Answer B


प्रश्न 12. ऐसे ही लड़के आगे चलकर गुण्डे चोर डाकू बनते हैं !” यह पंकित कहानी के किस पात्र ने कही है ?
(A)सेन साहब की धर्मपत्नी (B)गिरधर
(C)सेन साहब (D)शोफर

Answer c

 

1.श्रम विभाजन और जाती प्रथा vvi subjects and objectives. Click kare


Class 10th Hindi vish ki dat Objective pfd Download 2021-Hindi Objection Question 2022

 

प्रश 1. खोखा किन मामलों में अपवाद था ?
उतर- खोखा जीवन के नियम और घर के नियमों के मामले में अपवाद था !

प्रश्न 2. सेन दम्पति खोखा में कैसी संभावनाएँ देखते थे और उन संभावनाओं के लिए उन्होंने उसकी कैसी शिक्षा तय की थी ?
उतर- सेन दम्पति अपने खोखा के दुर्लित व्यवहार से एवं उसके तोड़-फोड़ की हरकतों से इंजीनयर बनने की संभावनाएं देखते थे! उन संभावनाओं के लिए उन्होंने उसकी शिक्षा के लिए पढ़ाई मिस्त्री को बुलाकर ठोक-ठाक सिखाने के लिए तय किया था !


प्रश्न 3.सेन साहब के और उनके मित्रों के बीच क्या बातचीत हुई और पत्रकार मित्र ने उन्हें किस तरह उतर दिया?
उतर-सेन साहब के ड्राइंग रूम में सेन साहब के कुछ मित्रगण के साथ-साथ एक पत्रकार मित्र भी उपस्थित थे!सभी परस्पर बातचीत कर रहे थे की-किसका बेटा क्या कर रहा है आगे क्या पढ़ेगा! सेन साहब तो बिना पूछे ही अपने खोखा को इंजीनियर बनाने की बात कह डाली! जब पत्रकार मित्र से पूछा गया तो उन्होंने जवाब दिया-“मैं चाहता हूँ मेरा बेटा जेंटिलमैन जरूर बने और जो कुछ बने उसका काम है उसे पूरी आजादी रहेगी!”


प्रश्न 4.मदन और ड्राइवर के बीच के विबाद के द्वारा कहानीकार क्या बताना चाहता है ?
उतर- मदन और ड्राइवर के बीच के विबाद के माध्यम से कहानीकार यह बताना चाहता है कि जनसाधारण भी वैसा ही बन जाता जैसा कि उसकी संगीत होती है! ड्राइवर सेन साहब का नमक खाता है इसीलिए सेन साहब के बेटे की बदमाशी के ओर नजर-अंदाज कर देता है लेकिन एक दूसरा बचा को यदि गाड़ी छूने की ललक हो तो उसके धकेल दिया जाता है, उल्टे उस पर गलत आरोप लगा देता है !


प्रश्न 5. काशू और मदन के बीच झगड़े का कारण क्या था ? इस प्रसंग के द्वारा लेखक क्या दिखाना चाहता है?
उतर-काशू और मदन के बीच झगड़े का कारण मात्र बाल हट्ठ था! यदि मदन को काशू की गाड़ी को स्पर्श करने का भी अधिकार नही तो काशू को मदन का लट्टू भी नचाने का अधिकार नही! लेकिन काशू राव दिखाकर लट्टू नचाना चाहता है जो मदन के विचार से गलत था! फिर मदन की प्रतिषोध की भावना ने झगड़े का रूप ले लिया! इस प्रसंग के द्वारा कहानीकार यह दर्शाना चाहते है कि-बच्चों में भी प्रतिषोध की भावना जगती है ! बच्चा में यह ज्ञान नही होता कि कोई बच्चा बड़े बाप का बेटा हूँ! जो बचो का स्वाभविक ज्ञान है!


प्रश्न 6. महल और झोपड़ी वालों की लड़ाई में अक्सर महल वाले ही जीतते है पर उसी हालत में जब दूसरे झोपड़ी वाले उनकी मदद अपने ही खिलाफ करते हैं! लेखक के इस कथन को कहानी से एक उदाहरण देखकर पुष्ट कीजिए !
उतर- महल और झोपड़ी वालों में लड़ाई अर्थार्त काशू और मदन की लड़ाई में मदन के अन्य मित्रों ने काशू की मदद नहीं कि ! परिणाम काशू (महल वाला) हारता है! यदि मदन के मित्र बालक काशू को मदद करता तो काशू ही जीतता प्रायः यही देखा जाता है कि झोपड़ी में रहने वाले लोग अपने ही खिलाफ आवाज लगते हैं परिणाम झोपड़ी वाला पराजित हो जाता हैं

 

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top Join Group