Sahara India Refund chief Subrata Roy सहारा प्रमुख सुब्रस्त पर होगी कार्रवाई पैसा होगा ।

Sahar Refund Money

Sahara India Refund chief: अगर आप का भी पैसा सहारा इंडिया में फंसा हुआ है। सभी लोगो के पैसा वापस होगा।आप पैसा को लेकर आप परेशान है। आज बहुत बड़ी खुशखबरी तो । सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को सहारा के प्रमुख सुब्रत राय को व्यक्तिगत तौर पर पेश होने का निर्देश देकर पटना हाईकोर्ट में अपने अधिकार क्षेत्र में नांगन किया पुलिस टो सुप्रीम कोर्ट ने कहा आम लोगों के अग्रिम जमानत याचिका की सुनवाई के दौरान इस तरह के आदेश जारी करने उच्च न्यायालय ने अपना अधिकारी क्षेत्र लाघी है। मामले में आरोपी नहीं थे जो पटना उच्च न्यायालय के समक्ष था । सबको को पैसा मिलेगी जानें पूरी जानकारी सुब्रत को बड़ी होगी।

Sahara refund

Sahara India cheif subarat Roy , यह गलत चलन है। जो बढ रहा है।

न्यायमूर्ति एम खाली निकर और न्यायमूर्ति जेवी पारदी वाला के पीठ ने कहा कि या गलत चलन है जो पड़ रहा है जमानत के लिए दायर याचिका में आप उन मामलों की जांच करते हैं जो जमानत विचार के लिए आगरा सिक है। जमानत के लिए यह कैसे प्रारंभिक हो सकता है तो यह जमानत खारिज करें और मंजूर करें सुप्रीम कोर्ट ने इस पहले न्यायालय के उस आदेश पर रोक लगाई थी जिसमें निवेशकों का पैसा वापस नहीं करने को लेकर बिहार के पुलिस महानिदेशक निर्देश दिया था कि वह सहारा के प्रमुख अदालत के समक्ष निजी तौर पर पेश करें आज ही की सुनवाई के दौरान कहा कि उच्च न्यायालय में इस तरह के आदेश पारित करना चाहिए थे ना कि 438 दंड प्रक्रिया धारा करता इस्तेमाल करता है।

 

सहारा इंडिया परिवार वालों को फंसा पैसा इसको मिलेगा 

 

सहारा प्रमुख सुब्रस्त पर होगी कार्रवाई।

सी आर सी की धारा 438 गिरफ्तारी की आशंका से बचने के लिए जमानत के निर्देश से संबंधित है न्यायमूर्ति ए एम खानविलकर ने कहा कि अपने 22 साल के अनुभव में मैं एक ही सीट है कि आप अधिकार क्षेत्र से बाहर हैं और पीठ कहां की है। कि हम या नहीं कह सकते हैं कि उच्च न्यायालय ऐसा नहीं कर सकता या अदालत कर सकता है लेकिन उचित प्रारूप और अधिकार क्षेत्र के तहत 438 में नहीं

Sahara India cheif subarat Roy सुब्रत रॉय निवेसको को पैसा कैसे लौटाएगा?

बिहार सरकार की ओर से पेश वकील ने कहा कि उच्च न्यायालय ने राय को अनुमति नहीं बनना है उन्होंने योजना पेश करने को कहा कि आखिर वह निवेश को पैसा कैसे लौट आएगा पीठ ने कहा कि हम केवल यह कह सकते हैं कि ऐसा धारा 438 के तहत नहीं किया जाना चाहिए था न्यायालय ने कहा है कि आज का करता हूं ने उच्च न्यायालय के अग्रिम जमानत का अनुरोध किया था और अदालत को केवल इस मामले पर विचार करना चाहिए था की जमानत मंजूर करने के लिए कोई प्रथम मामला बनाना है या नहीं।

Sahara India cheif

subarat Roy

सुप्रीम कोर्ट ने यदि इस तरह के आदेश सत्र अदालत की ओर से दिया जाता है तो उस न्यायालय में इस सत्र न्यायाधीश को आड़े हाथों लेते और यहां तक उसे न्यायाधीश आगजनी में जाने की सलाह भी देती है सुप्रीम कोर्ट ने मामला सुनवाई का प्रति वर्ष स्थापित कर दिया। पैसा को पाना चाहते है। तो तुरंत नीचे लिंक पर क्लिक कर के सभी ग्रुप में ज्वाइन हो जाए।

 

WhatsApp group  link 
Telegram Join  Click Here 

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top