परम्परा का मूल्यांकन vvi objective and subjective question

परम्परा का मूल्यांकन Objective Qestion 2022

Class 10th chapter 7 परंपरा मूल्यांकन  Objective Sujective Question Answer 2022परम्परा का मूल्यांकन 

               7. परम्परा का मूल्यांकन 

लेखक परिचय

हिंदी आलोचना के महत्वपूर्ण हस्ताक्षर डॉ० रामविलाश शर्मा का जन्म उन्नाव ( उ० प्र०) के एक छोटे-से गॉव ऊँचगाँव स्नानी में 10 अक्टूबर 1912 ई० तक में हुआ था ! उन्होंने लखनऊ विश्विद्यालय से 1932 ई० में बी० ए० तथा 1934 ई० में अंग्रेजी साहित्य में एम० ए० करने के बाद 1938 ई० तक शोध कार्य में व्यस्त रहे । 1938
ई०से 1943 ई०तक उन्होंने लखनऊ विश् वविधालय के अंग्रेजी विभाग में अध्यापन कार्य किया ।उसके बाद वे आगरा के बलवंत राजपूत कॉलेज चले आए और objective1917ई
तक यहाँ अध्यापन कार्य करते रहे ।बाद में आगरा विशवविद्यालय के कुलपति के अनुरोध पर वे के ०एम० हिंदी संस्थान के निदेशक बने और यही से 1974 ई ०में से सेवानिवत्त हुए ।1949 ई ० से 1953 ई० तक रामविलासजी भारतीय प्रगतिशील लेखक संघ के महामंत्री भी रहे ।उनका निधन 30 मई 2000 ई ० को दिल्ली में हुआ ।

1. रामविलाश शर्मा निम्नलिखित में क्या है ?
(A)आलोचक         (B)कवि
(C)नाटककार         (D)साहित्यकार

Answer A


2. परम्परा का मूल्यांकन के लेखक कौन है?
(A) नलिन विलोचन शर्मा।  (B) अशोक वाजपेयी
(C) रामविलास शर्मा       (D)भीमराव अंबेडकर

Answer C

  • Class 10th chapter 7 परंपरा मूल्यांकन  Objective Sujective Question Answer 2022 

3. परम्परा का मूल्यांकन निबन्ध किस पुस्तक से संकलित हैं?
(A) भाष और समाज।       (B)परम्परा का मूल्यांकन
(C) भारत की भाष समस्या (D) प्रेमचंद और उनका युग

Answer B


4.दूसरों की नकल कर लिखा गया साहित्य कौस होता हैं (A)       (B) मध्यम
(C)अधम।        (D) व्यंग्य

Answer C

5.रैफल,लियोनाडोर दी विंची और एंजलो किसकी देन हैं?
(A)इंगलैंड की           (B) फ्रांस की
(C) इटली की            (D) यूनान

Answer C


6.शेक्सकिपियर कौन थे ?
(A) नाटककार        (B) कहानीकार
(C) उपन्यासकार       (D) निबंधकार

Answer A


7. रामविलास शर्मा का जन्म कब हुआ था?
(A)10 अक्टूबर 1912      (B) 10मार्च 19
(C)15 अगस्त 1945       (D) 10 दिसम्बर 2001


8. रामविलास शर्मा की रचनाओं के केंद्र -बिंदु हैं?
(A)देशभकित                             (B) मैक्सर्वाद
(C) देशभकित एवं मकसर्वाद।      (D) सभी गलत हैं

 

Answer C


9. रामविलास जिकी गाँव का नाम हैं?
(A) ऊँच गाँव                  (B) सानी
(C) ऊँच गाँव सानी।       (D) सभी गलत

Answer C


Class 10th Hindi chapter 7 Subjective Question Answer pdf 2022 |Prampra Mulyankan Sujective Question 2022 P

10.साहित्य की परंम्परा का पूर्ण ज्ञान किस व्यवस्था में सम्भव है?
(A) सामन्तवादी व्यवस्था     (B) पूंजीवादी व्यवस्था
(C) समाजवादी व्यवस्था      (D) उपर्युक्त सभ

 

श्न 1. असिमता का लेखक किस प्रसंग में उल्लेख करता है और उसका क्या मह्त्व बताता है?

उत्तर-जातीय असिमता का उल्लेख साहित्य के विकास प्रंसग में करता है। उसके महत्व को बताने के लिए लेखक का कहना है की विशेष भूमका होती है क्योंकि यूरोप के सांस्कृतिक विकास में जो भूमिका प्राचीन यूनानियों कि है वह अन्य किसी जाति की नहीं।

विष के दाँत पढ़ने के लिए

प्रश्न 2 बहुजातीय राष्ट्र की हैसियत से कोई भी देश भारत का मुकाबला क्यो नही कर सकता ?

उत्तर- बहुजातीय राष्ट्र अनेक हैं। सोवियत संघ में सबसे अधिक जातियाँ शामिल हैं परन्तु उनका इतिहास मिला – जुला राष्ट्रीय इतिहास नहीं हैं।। जैसे कि भारतीय जातियों का राष्ट्रीय इतिहास एक है।यूरोप के लोग यूरोपियन संस्क्रति कि बात करते हैं पर यूरोप कभी राष्ट्र नहीं बना बलिक दो भगो में विभक्त होकर राष्ट्रीयता को विभाजित कर डाला।बहुजातीय राष्ट्र की हैसियत से भारत का मुकाबला कोई राष्ट्र नहीं कर सकता है।


प्रश्न 3.भारत की बहू जातीयता मुख्यत : संस्कृति और इतिहास की देन हैं।कैसे?

उत्तर- भारत की बहू जातीयता मुख्यतः संस्कृति और इतिहास की देन है क्योंकि यहाँ की राष्ट्रीयता एक जाति द्रारा दूसरी जातियों पर राजनीतिक प्रभूत्व कायम करके स्थापित। नहीं हुई है। बल्कि हमारी राष्ट्रीयता बहुजातियों
को अपने मे पीरोकार अद्वितीय माना जाता है।


प्रश्न 4.निबंध का समापन करते हुए लेखक कैसा स्वपन देखता है ? उसे साकार करने में परंपरा कि क्या भूमिका हो सकती है? विचार करें।

उत्तर- लेखक निबंध का सामपन करते हुए उस दिन का स्वपन देखता है जब देश में समाजवादी व्यवस्था कायम होगी।उस दिन अधिक -से अधिक लोग साक्षर होंगे ।तब वे सहहित्यकारों की रचना को पढेंगे ।जब पढेंगे तो उसे साहित्य से उनका पूरा परिचय होगा और सही अर्थ में साहित्य परम्परा का मूल्यांकन कर पाएंगे


प्रश्न 5 सहित सापेक्ष के रूप में स्वाधीन होता है इस मत को प्रमाणित करने के लिए लेखक ने कौन सी तर्ज और प्रमाण उपस्थित किया है
उत्तर- साहित्य सापेक्ष में रूप में स्वाधीन होता है जबकि परस्थिति जातियों पराधीन होती है इस मत को प्रमाणित करने के लिए लिए लेखक ने प्रमाण उपस्तिथि करते हुए कहा है कि अमेरिका और एथेश दोनों गुलाम हुए लेकिन एथेश का साहित्य सम्पूर्ण एथेंश को प्रभाबित किया न् कि अमेरिका साहित्य


प्रश्न 6. परंपरा का ज्ञान किनके लिए सबसे ज्यादा आवश्यक है और क्यों ?

उतर :- जो लोग साहित्य में युग परिवर्तन करना चाहते है जो लोग लकीर फकीर नही बनकर रूढिया तोड़कर कार्तिकारी साहित्य की रचना चाहते है उनके लिए परम्परा का ज्ञान आवश्यक है क्यो की परंपरा की ज्ञान से प्रगति शील आलोचना का विकाश होता है अर्थात प्रगतिधील आलोचना साहित्य परम्परा का मूर्त ज्ञान है


प्रश्न 7 साहित्य का कौन कौन सा पक्ष अपेक्षाकृत स्थाईहोता है ? इस संबंध में में लेखक की राय स्पष्ठ करें

उत्तर:- साहित्य मनुष्य के सम्पूर्ण जीबन से सम्बद्ध है । आर्थिक जीवन के अलाबा मनुष्य एक प्राणी के रूप में थी जीवन वितता है । साहित्य में मनुष्य बहुत सी आदमी
वावनाये प्रतिफलित होती है जो उसे प्राणीमात्र से जोड़ती है । साहित्य केबल विचारधारा मात्र नहीं है बल्कि उसमें मनुष्य का इंद्रये बोधउशकी भबनाये भी व्यंजित होती है ।साहित्य का यह पक्ष अपेक्षाकृत स्थाई होता है ।

Teligram Group Link

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top Join Group